loading...

ISHQ SHAYARI

​गम ने हसने न दिया, ज़माने ने रोने न दिया!

इस उलझन ने चैन से जीने न दिया!

थक के जब सितारों से पनाह ली!

नींद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया! 

💐

बेताब तमन्नाओ की कसक रहने दो!

मंजिल को पाने की कसक रहने दो!

आप चाहे रहो नज़रों से दूर!

पर मेरी आँखों में अपनी एक झलक रहने दो! 

💐

वो वक़्त वो लम्हे कुछ अजीब होंगे!

दुनिया में हम खुश नसीब होंगे!

दूर से जब इतना याद करते है आपको!

क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे? 

💐

कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है!

कोई कहता है प्यार सज़ा बन जाता है!

पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से, 

तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है 

💐

आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है!

इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है!

कोई संभाले मुझे, बहक रहे है मेरे कदम!

वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है! 

💐

इस कदर हम उनकी मुहब्बत में खो गए!

कि एक नज़र देखा और बस उन्हीं के हम हो गए!

आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था!

आँख बंद की और उन्हीं सपनो में फिर सो गए! 

💐

किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं !

किसी को दिल में बसाना कोई खता तो नहीं !

गुनाह हो यह ज़माने की नज़र में तो क्या !

ज़माने वाले कोई खुदा तो नहीं ! 

💐

इश्क का जिसको ख्वाब आ जाता है;

समझो उसका वक़्त खराब आ जाता है;

महबूब आये या न आये;

पर तारे गिनने का तो हिसाब आ ही जाता है!

💐

दो दिलो की मोहब्बत से जलते हैं लोग;

तरह-तरह की बातें तो करते हैं लोग;

जब चाँद और सूरज का होता है खुलकर मिलन;

तो उसे भी “सूर्य ग्रहण” तक कहते हैं लोग!

💐

छुपा लूं तुझको अपनी बाँहों में इस तरह,

 कि हवा भी गुजरने की इजाज़त मांगे;

मदहोश हो जाऊं तेरे प्यार में इस तरह,

 कि होश भी आने की इजाज़त मांगे!

💐

लोग कहते हैं पिये बैठा हूँ मैं;

खुद को मदहोश किये बैठा हूँ मैं;

जान बाकी है वो भी ले लीजिये;

दिल तो पहले ही दिये बैठा हूँ मैं।

💐

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *